Verification code kya hota hai? । गूगल वेरिफिकेशन कोड क्या होता है?

Verification code kya hota hai? । Google verification code kya hota hai? – नमस्कार दोस्तो हमारे आज के नए लेख में आपका स्वागत है क्या जब भी आप किसी वेबसाइट, सोशल प्लेटफॉर्म, ऐप में लॉगिन या Google में अपना आईडी लॉगिन करते तो Verification code मांगा जाता है।

और आपको जानकारी के आभाव में नहीं पता कि Verification code kya hota hai? तो यह लेख आपके लिए काफी हेल्पफुल हो सकता है क्योंकि आज हम इस लेख में जानेंगे वेरिफिकेशन कोड, गूगल वेरिफिकेशन कोड और Enter verification code kya hota hai? और किस काम आता है।

जैसा कि आप सभी जानते हैं धीरे धीरे हमारा देश डिजिटल होता जा रहा है ज्यादातर लोगो को ऑनलाइन रहना जरूरी हो गया है कुछ लोग अपने जरूरी काम के लिए ऑनलाइन रहते है तो कुछ लोग इंटरटेनमेंट के लिए।

लेकिन जैसे ही आप ऑनलाइन इंटरनेट पर आते है ऑनलाइन फ्रॉड और डाटा लीक होने के ज्यादा चांस बढ़ जाते है इसलिए कोई भी ऑनलाइन कंपनी या वेबसाइट आपको ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए तरह तरह के ऑप्शन देते है। 

जैसे कैप्चा भरने को कहा जाता है अपनी पहचान को शाबित करने के लिए अपने मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी को वेरीफाई करना होता है जिससे यह कन्फर्म हो सके की जो यूजर किसी वेबसाइट में लॉगिन कर रहा है या नंबर दर्ज कर रहा है वह वही यूजर है ना की कोई दूसरा यूजर इसे थोड़ा और डिटेल में जानते है।  

Verification code kya hota hai?

Verification कोड 4, 5 या 6 अंको का एक नंबर होता है जैसे 2456, 645234, 75633 इस तरह के नंबर। यह नंबर या कोड सिर्फ आपके मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर मैसेज द्वारा भेजा जाता है इन वेरिफिकेशन कोड का मुख्य मकसद होता है अपनी पहचान को सत्यापित करना।

Google verification code kya hota hai

अगर किसी प्लेटफॉर्म, वेबसाइट द्वारा आपकी पहचान को सत्यापित नहीं किया जाएगा तो कोई भी उनके वेबसाइट में अनगिनत अकाउंट बना कर लॉगिन कर सकता है स्पैम और स्कैम कर सकता है इससे फ्रॉड होने के भी ज्यादा चांस बढ़ जाते है।

जैसे सोशल मीडिया ऐप या ई कॉमर्स ऐप को ही लेकर चले तो इनमे आपको अकाउंट बनाने के लिए मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी दर्ज करने की जरूरत पड़ती है मोबाइल नंबर या ईमेल दर्ज करते ही आपके नंबर और ईमेल पर एक वेरिफिकेशन कोड भेजा जाता है।

अब इस वेरिफिकेशन कोड को बिल्कुल सही सही अपने सोशल मीडिया ऐप या ई कॉमर्स ऐप में दर्ज करते है तभी इन ऐप्स में सफलतापुर्वक लॉगिन हो सकते है वेरिफिकेशन कोड गलत होने या कुछ समय देरी बाद कोड सबमिट करने पर भी आप ऐप, वेबसाइट में लॉगिन नहीं कर पाएंगे।

उदाहरण के तौर पर – अगर आप फ्लिपकार्ट या अमेज़न में अकाउंट बनाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और उस नंबर पर एक ओटीपी कोड आएगा जिसे वेरिफिकेशन कोड कहते है यह वेरिफिकेशन कोड दर्ज करने के बाद ही आप फ्लिपकार्ट या अमेज़न में अकाउंट बना सकेंगे।

इसका मतलब ये हुआ कि एक आदमी एक मोबाइल नंबर से एक ही अकाउंट बना पाएगा अगर एक से ज्यादा अकाउंट बनाना चाहते है तो एक से अधिक मोबाइल नंबर होने चाहिए वेरिफिकेशन कोड प्राप्त करने के लिए।

और कोई भी तीसरा व्यक्ति आपके अकाउंट को एक्सेस नहीं कर पाएगा जब तब मोबाइल नंबर आपके पास मौजूद है।

Google verification code kya hota hai?

गूगल वेरिफिकेशन कोड भी वेरिफिकेशन कोड की ही तरह एक पिन नंबर या ओटीपी होता है जब आप गूगल में अकाउंट बनाते है तो मोबाइल नंबर दर्ज करना होता है और मोबाइल नंबर दर्ज करने पर आपके नंबर पर वेरिफिकेशन के लिए एक ओटीपी भेजा जाता है।

इस वेरिफिकेशन कोड को सबमिट करते ही आप सफलतापूर्वक गूगल अकाउंट बना सकते है इस वेरिफिकेशन कोड के गूगल में बेहतरीन फायदे है जैसे आप गूगल अकाउंट हैक होने से बच जाएंगे।

लेकिन इसके लिए आपको 2 स्टेप वेरिफिकेशन को चालू करना होगा और अब अगर किसी को आपका गूगल आईडी और पासवर्ड मालूम भी चल जाता है तो वह आपका अकाउंट नहीं खोल पाएगा क्योंकि अकाउंट खोलने के लिए सामने वाले को वेरिफिकेशन कोड दर्ज करना होगा और यह वेरिफिकेशन कोड सिर्फ आप अपने मोबाइल नंबर पर रिसीव कर पाएंगे।

इसके साथ Verification Code का यह भी फायदा है कि अगर आप गलती से गूगल अकाउंट का पासवर्ड भूल जाते है तो वेरिफिकेशन कोड के मदद से वापस गूगल अकाउंट रिकवर कर सकते है हालाकि गूगल अकाउंट में पहले से ही कुछ वेरिफिकेशन कोड उपलब्ध होते है जो हमेशा बदलते भी रहते है इन वेरिफिकेशन कोड को देखने के लिए यह स्टेप फॉलो करें।

स्टेप 1. सबसे पहले गूगल क्रोम ब्राउज़र में गूगल अकाउंट खोल कर Manage your google account पर क्लिक करें।

google verification code kya hota hai

स्टेप 2. यहां Security का सेक्शन मिलेगा क्लिक करें अब नीचे दिए ऑप्शन 2 Step Verification पर क्लिक करें।

स्टेप 3. अब आपको अपने गूगल अकाउंट का पासवर्ड दर्ज करना होगा और फिर Backup Code का ऑप्शन देख पाएंगे।

enter verification code kya hota hai

जिसे क्लिक करते ही गूगल के सभी बैकअप कोड यानी वेरिफिकेशन कोड देखने को मिलेंगे आप इन कोड के मदद से भी अपने गूगल अकाउंट को दूसरे डिवाइस में लॉगिन कर पाएंगे और इन कोड्स को डाउनलोड और प्रिंट करने का भी ऑप्शन मिल जाता है।

Verification Code कहा कहा इस्तेमाल होता है?

आज के समय लगभग ज्यादातर जगह प्लेटफॉर्म वेबसाइट में वेरिफिकेशन कोड सबमिट करने की जरूरत पड़ती है जैसे आप किसी ई कॉमर्स वेबसाइट या ऐप में लॉगिन करते है किसी भी प्रकार के एग्जाम का फॉरम भरते है, गूगल में ईमेल आईडी बनाते है, सोशल मीडिया ऐप्स लॉगिन करते है सभी जगह एक बार वेरिफिकेशन कोड दर्ज करने की जरूरत पड़ती है।

यहां तक कि आधार कार्ड डाउनलोड करना या आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी प्राप्त करना, डिजिटल पेमेंट्स के लिए अकाउंट बनाना या डायरेक्ट एटीएम/डेबिट कार्ड से पेमेंट करने के लिए भी वेरिफिकेशन कोड की आवश्यकता होती है जिसे ओटीपी भी कहा जाता है।

Verification Code कहा से मिलेगा?

अगर आपके मन में अभी भी यह सवाल है कि वेरिफिकेशन कोड कहा से मिलेगा तो मैं आपको बता दू आप जब भी किसी एप्प, वेबसाइट, गूगल में अकाउंट बनाते है या पेमेंट्स करते है तो यह वेरिफिकेशन कोड आपके मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी पर मैसेज द्वारा रिसीव होता है इसलिए एक बार अपना एसएमएस इनबॉक्स या मेल इनबॉक्स जरूरत चेक करें।

Verification code गलत बता रहा है क्या करें?

वेरिफिकेशन कोड गलत बताने के कारण है या तो आप सच में कोई गलत वेरिफिकेशन कोड दर्ज कर रहे है या Verification code दर्ज करने का समय खत्म हो गया होगा।

मै आपको बता दू वेरिफिकेशन कोड का भी एक लिमिट समय होता है यानी एक समय अवधि के अंदर ही वह वेरिफिकेशन कोड काम करता है ज्यादातर सभी प्लेटफॉर्म में वेरिफिकेशन कोड दर्ज करने के लिए सिर्फ 10 मिनट का समय दिया जाता है।

यानी अगर 10 मिनट के बाद रिसीव हुए वेरिफिकेशन कोड को दर्ज करते है तो वेरिफिकेशन कोड गलत होने का एरर आएगा, इसलिए हर बार जब भी कहीं varification code दर्ज करना हो तो  10 मिनिट के भीतर कोड दर्ज करें अन्यथा 10 मिनट बाद दुबारा एक नया वेरिफिकेशन कोड मांगा सकते है बस आपको Resend OTP पर क्लिक करना होगा।

Enter verification code kya hota hai?

अभी तक उपर हमने जाना वेरिफिकेशन कोड क्या चीज है लेकिन आपके मन में अभी भी सवाल है कि आखिर ये इंटर वेरिफिकेशन कोड क्या है तो मै आपको बता दू इसका मतलब है आपको प्राप्त हुए वेरिफिकेशन कोड को ‘Enter verification code’ के स्थान पर दर्ज करना होता है।

इन्हें भी पढ़े

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल


प्रश्न – वेरिफिकेशन कोड कैसे पता करें?

उत्तर – वेरिफिकेशन कोड मोबाइल के मेसेज बॉक्स या ईमेल में देख सकते हैं।

प्रश्न – वेरिफिकेशन का मतलब क्या होता है?

उत्तर – वेरिफिकेशन का मतलब पहचान सत्यापित करना होता है।

प्रश्न – गूगल वेरिफिकेशन कोड से क्या होता हैं?

उत्तर – गूगल वेरिफिकेशन कोड का इस्तेमाल आप गूगल अकाउंट रिकवर करने में कर सकते है।

प्रश्न – मुझे गूगल सत्यापन कोड की आवश्यकता क्यों पड़ेगी?

उत्तर – गूगल सत्यापन कोड की आवश्यकता तब बहुत जरूरी होता है जब आप गूगल अकाउंट को दूसरे डिवाइस में लॉगिन करना चाहते है या पासवर्ड भूल गए है तब आप गूगल सत्यापन कोड से गूगल अकाउंट रिकवर कर पाएंगे।

प्रश्न – सत्यापन कोड कितने अंक का होता है?

उत्तर – सत्यापन कोड आम तौर पर 4 और 6 अंक के होते है।

प्रश्न – गूगल सत्यापन कोड कहां है?

उत्तर – गूगल सत्यापन कोड आपको गूगल अकाउंट में 2 स्टेप वेरिफिकेशन में मिलेगा यहां आपको बैकअप कोड का ऑप्शन मिलेगा जिस पर क्लिक करते ही गूगल के सत्यापन कोड देख सकेंगे।

अन्तिम शब्द

उम्मीद करता हू मेरा यह लेख पढ़ कर अब आप सभी जान गए होंगे वेरिफिकेशन कोड और Google verification code kya hota hai? अगर आपको अभी भी वेरिफिकेशन कोड के बारे में कुछ पूछना है तो नीचे कमेंट करके अपने सवाल पूछ सकते है जल्द से जल्द आपके सवालों का जवाब दिया जाएगा।

मेरा यह लेख आपके लिए हेल्पफुल रहा तो आगे अपने दोस्तो, रिश्तेदारों और सोशल मीडिया पर शेयर करे। इसी तरह की जानकारी मोबाइल ट्रिक्स, ऐप ट्रिक्स जानने के लिए हमारे ब्लॉग को फॉलो करें और सबसे पहले तकनीकी खबर पाने के लिए हमें टेलीग्राम, इंस्टाग्राम, फेसबुक पर भी फॉलो कर सकते हैं आपका धन्यवाद।

Leave a Comment